8 महीने की गर्भवती प्राथमिक शिक्षका की कोरोना के मौत हुई, उसे UP Panchayat Election में ड्यूटी करने को मजबूर किया गया था

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

जौनपुर – बलिया उत्तर प्रदेश : उत्तर प्रदेश के पंचायत (UP Panchayat Election) के चुनाव अभी तक करीब 135 टीचर्स ने अपनी जान कोरोना के कारण गवाई है ऐसे ही एक शिक्षका अपनी नौकरी के पहले महीने में सहायक शिक्षक 27 वर्षीय कल्याणी अग्रहरी 15 अप्रैल को पंचायत चुनाव ड्यूटी नहीं करना चाहती थीं। वह आठ महीने की गर्भवती थी और इतने लंबे समय तक एक जगह पर बैठना उसके लिए आसान नहीं था।

9 अप्रैल को, अपने पति के साथ, कल्याणी ने पटेला ग्राम पंचायत से जौनपुर विकास भवन तक 30 किलोमीटर की यात्रा की, उसने भी दिया जिसमे उसने कहा की वह चुनाव ड्यूटी करने में सक्षम नहीं होगी। पर उसकी इस मांग को ख़ारिज कर दिया गया, और उसे

पंद्रह दिन बाद, जौनपुर के अस्पताल में शिक्षक की मृत्यु हो गई। उसके परिवार के अनुसार, उसके मृत्यु प्रमाण पत्र में वह कोरोना -पॉजिटिव थी।

इन मौतों पर संज्ञान लेते हुए, इलाहाबाद उच्च न्यायालय ने 27 अप्रैल को उत्तर प्रदेश राज्य आयोग को कारण बताओ नोटिस जारी किया, जिसमें पूछा गया कि कोविद प्रोटोकॉल को लागू नहीं करने के लिए इसके और अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई क्यों न की जाए।

इस बीच उत्तरप्रदेश के राष्ट्रीय शिक्षा महासंघ ने 2 मई को मतगणना ड्यूटी का बहिष्कार करने का फैसला किया है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *